मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक ये चर्चा भले ही सरेआम हो कि सहवाग और धोनी में जमती नहीं. उन दोनों के बिच झगड़ा है. लेकिन हाल ही में एक सहवाग के बयान के बाद ऐसा कुछ नहीं लगता.

दरअसल सहवाग ने अगले साल होने वर्ल्ड को लेकर कहा है कि विश्व कप टूनार्मेंट को भारतीय टीम तभी जीत सकती है, अगर युवा खिलाड़ियों को महेंद्र सिंह धौनी के मार्गदर्शन में प्रशिक्षित किया जाए. ज्ञात हो कि धौनी के प्रदर्शन और रणनीति की बदौलत भारत ने 2011 में विश्व कप का खिताब जीता था.

sehwag and dhoni news


Image Source

सहवाग ने कहा, “वर्तमान में भारतीय टीम में शामिल युवा खिलाड़ियों के पास धौनी जैसे अच्छे वरिष्ठ खिलाड़ी हैं, जो उनका मार्गदर्शन कर सकते हैं और उन्हें 2019 विश्व कप की तैयारी के लिए प्रशिक्षित कर सकते हैं.”

वहीं सहवाग ने अपने 2011 में हुए वर्ल्ड कप अनुभव को साझा करते हुए कहा कि, “इस टूनार्मेंट से दो साल पहले हमारी टीम की एक बैठक हुई थी, जहां हमने यह फैसला लिया था कि हम इस विश्व कप के हर मैच को नॉकआउट मैच की तरह देखेंगे. अगर हम हारे, तो हम विश्व कप से बाहर हो गए समझो. हमने इसके सभी मैच जीते और फाइनल में पहुंचे. इसी प्रकार हमने तैयारी की थी.”

Comments

comments